अहम क़ुरआनी मालूमात, क़ुरआन के बारे में रोचक तथ्य

Quran fact in hindi urdu

क़ुरआन दुनिया में सबसे ज्यादा पढ़ी जाने वाली किताब है। यह एक ऐसी किताब है जिसमें आज तक कोई तब्दीली नहीं हो सकी। कुरान पर सबसे ज्यादा शोध किया जा चुका है और हमें साइंस से लेकर विज्ञान के हर क्षेत्र की जानकारी मिलती है। ये आसमानी ग्रंथ ना सिर्फ इंसानियत की रहनुमाई करता है बल्कि उन्हें कायनात पर ज्ञान विज्ञान पर शोध करने की ओर भी प्रेरित करता है। आइए जानते हैं कुरान से संबंधित विभिन्न जानकारियों के बारे में।

सवाल: कुरान किस नबी पर अवतरित हुआ?

जवाब: कुरान हजरत मोहम्मद सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम पर अवतरित हुआ।

सवाल: किस महीने में कुरान उतारा यानी अवतरित किया गया।

जवाब: कुरान रमजान महीने में अवतरित किया गया इसके बारे में खुद अल्लाह का कहना है कि "हमने इस कुरान को रमजान के मुबारक महीने में अवतरित किया" सूरह बक़रह


सवाल: कुराने पाक की कौन सी आयत सबसे पहले नाजिल की गई?

जवाब: कुराने पाक की सबसे पहली उतरने वाली आयत "इक़रा बिस्मी रब्बिक-अल-लज़ी" है

सवाल: कुरान ए मजीद की सबसे आखिरी आयत कौन सी नाजिल हुई?

जवाब: कुरान ए मजीद में नाजिल होने वाली सबसे आखिरी आयत सूरह बकरा की (واتقو یوما ترجعون فیہ الی اللہ ثم تو فی کل نفس ما کسبت وھم لا یظلمون) है।

सवाल: पूरा कुरान कितने सालों में नाजिल हुआ?

जवाब: पूरा कुरान 23 बरस में नाजिल हुआ।

सवाल: नबी करीम सल्लल्लाहु अलैहि वसल्लम के मुताबिक दौरान 7 हर्फ़ों पर उतारा गया है उन साथ हर्फ़ों से क्या मुराद है?

जवाब: 7 हर्फ़ों में नाजिल किए जाने का मतलब है कि कुरान पाक 7 अरबी लहरों में अवतरित यानी नाजिल किया गया है।

सवाल: क़ुरआने करीम की सबसे बड़ी सूरत कौन सी है और वह कितनी आए तो और पारो पर आधारित है?

जवाब: क़ुरआने करीम की सबसे बड़ी सूरत सूरह बकरा है जिसमें 286 आयतें हैं जो कि ढाई पारो पर आधारित है।

सवाल: क़ुरआने करीम की सबसे छोटी सूरत कौन सी है और उसमें कितनी आयतें हैं?

जवाब: क़ुरआने करीम की सबसे छोटी सूरत सूरह कौसर है और इसमें 3 आयतें हैं।

सवाल: तरतीब (श्रंखला) के लिहाज से कुरान मजीद की सबसे पहली और सबसे आखरी सूरत कौन सी है?

जवाब: तरतीब के लिहाज से कुरान मजीद के सबसे पहली सूरत सूरह-फातिहा और सबसे आखिरी सूरत सूरह-नास है।

सवाल: कुरान ए मजीद की बुक कौन सी सूरत है जिसको तिहाई कुरान कहा जाता है?

जवाब: सूरह इखलास को सल्स क़ुरआन यानी तिहाई कुरान के नाम से जाना जाता है।

सवाल: क़ुरआन-ए-मजीद की वह कौन सी सूरत है जिसको चौथाई कुरान कहा गया है?

जवाब: सूरा अल काफिरून को रबअ क़ुरआन यानी एक चौथाई कुरान के नाम से भी जाना जाता है।

No comments

Post Top Ad

ad728

Post Bottom Ad

ad728